बाल ठाकरे की जीवनी और राजनीतिक सफर

◆ बाल केशव ठाकरे, एक भारतीय राजनीतिज्ञ, एक दक्षिणपंथी जातीय मराठी पार्टी के संस्थापक सदस्य थे, जिसका नाम शिवसेना है। ◆ शिवसेना पार्टी की गतिविधियाँ मुख्य रूप से भारत के पश्चिमी भाग में महाराष्ट्र राज्य में केंद्रित हैं। बाल ठाकरे ने मुंबई शहर में गैर-मराठियों के प्रवास और बढ़ते प्रभाव का विरोध किया था। ◆ …

Read moreबाल ठाकरे की जीवनी और राजनीतिक सफर

कर्मवीर डॉ बृजमोहन भारद्वाज और डॉ माधुरी भारद्वाज कौन बनेगा करोड़पति

डॉ बृजमोहन भारद्वाज और डॉ माधुरी भारद्वाज कौन बनेगा करोड़पति शो के स्पेशल एपिसोड कर्मवीर में आ रहे हैं। कौन बनेगा करोड़पति 11 भारतीय टेलीविजन पर सबसे अधिक देखे जाने वाले और मनोरंजक रियलिटी टीवी शो में से एक है। यह न केवल आपका मनोरंजन करता है, बल्कि यह आपके सामान्य ज्ञान को भी बढ़ाता …

Read moreकर्मवीर डॉ बृजमोहन भारद्वाज और डॉ माधुरी भारद्वाज कौन बनेगा करोड़पति

KBC सुनीता कृष्णन || जानिए कौन हैं सुनीता कृष्णन कौन बनेगा करोड़पति कर्मवीर में आने वाली

◆ सुनीता कृष्णन जो कि मदर टेरिसा अवॉर्ड, सोशल जस्टिस और लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स द्वारा पीपल ऑफ द इयर से सम्मानित कौन बनेगा करोड़पति के कर्मवीर स्पेशल एपिसोड शो में दिखाई देंगी। ◆ कौन बनेगा करोड़पति कर्मवीर स्पेशल में आई सुनीता कृष्णन भारतीय सामाजिक कार्यकर्ता हैं, जो बच्चों की तस्करी के खिलाफ काम कर …

Read moreKBC सुनीता कृष्णन || जानिए कौन हैं सुनीता कृष्णन कौन बनेगा करोड़पति कर्मवीर में आने वाली

तीलू रौतेली – बहादुरी की एक कहानी || गढ़वाल की झाँसी की रानी

तीलू रौतेली एकमात्र ऐसी शहीद हैं जिन्होंने 15 से 20 साल की उम्र में 7 युद्ध लड़े थे। यह वीरांगना केवल 15 वर्ष की उम्र में रणभूमि में कूद पड़ी थी। तीलू रौतेली का जन्म उत्तराखण्ड के गढ़वाल में हुआ था। तीलू रौतेली जन्म 8 अगस्त 1661 को हुआ था, और 8 अगस्त को उत्तराखंड और पूरे …

Read moreतीलू रौतेली – बहादुरी की एक कहानी || गढ़वाल की झाँसी की रानी

गौरा देवी- चिपको आंदोलन

गौरा देवी, वह महिला जो साहस, शक्ति और प्रकृति के प्रति प्रेम की प्रतीक थी। वह हर अन्य महिला की तरह थी लेकिन वह अपने जीवन को पर्यावरण संरक्षण में लगा दिया। कुछ लोग यह भी कहते हैं कि वह देवी अरण्यनी (अरण्यनी वनों और वहाँ रहने वाले जानवरों की देवी हैं) का पुनर्जन्म था। वह …

Read moreगौरा देवी- चिपको आंदोलन

अमृता देवी बिश्नोई का पर्यावरण आंदोलन और बलिदान || खेजड़ली आंदोलन

सन 1730 में राजस्थान के मारवाड़ में खेजड़ली नामक स्थान पर जोधपुर के महाराजा द्वारा हरे पेड़ों को काटने से बचाने के लिए, अमृता देवी बेनीवाल ने अपनी तीन बेटियों आसू , रत्नी और भागू के साथ अपने प्राण त्याग दिए। उसके साथ 363 से अधिक अन्य बिश्नोई , खेजड़ी के पेड़ों को बचाने के …

Read moreअमृता देवी बिश्नोई का पर्यावरण आंदोलन और बलिदान || खेजड़ली आंदोलन

कौन हैं, बिंदेश्वर पाठक KBC में आने वाले और सुलभ इंटरनेशनल के संस्थापक

जहाँ एक ओर आज हर कोई पैसे कमाने के उद्देश्य से दूसरे देश भागा जा रहा या फिर कोई ऐसा काम कर रहा जिससे केवल उसका भला हो वहीं एक शख्श समाज के बारे में सोचता है। हर जगह कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो इंसानियत को तवज्जो देते हैं। आज हम बात कर …

Read moreकौन हैं, बिंदेश्वर पाठक KBC में आने वाले और सुलभ इंटरनेशनल के संस्थापक

कौन हैं kbc में दिखाये गए मनसुखभाई प्रजापति || मनसुखभाई प्रजापति मिट्टी कूल

30 सितंबर को प्रसारित हुये सोनी टीवी का चर्चित और लोकप्रिय कार्यक्रम कौन बनेगा करोड़पति में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के आदर्शों पर आगे बढ़ने वाले मनसुखभाई प्रजापति मिट्टी कूल क्ले क्रिएशन कंपनी के मालिक हैं, जो मिट्टी के सभी प्रकार के बर्तनों से लेकर बिना बिजली केे चलने वाले मिट्टी का फ्रिज तक बनाती है। …

Read moreकौन हैं kbc में दिखाये गए मनसुखभाई प्रजापति || मनसुखभाई प्रजापति मिट्टी कूल

शहीद भगत सिंह की जीवनी

जन्म :- 27 सितंबर, 1907शहादत :- 23 मार्च, 1931उपलब्धियां :-● भारत में क्रांतिकारी आंदोलन को एक नई दिशा दी,● पंजाब में क्रांति का संदेश फैलाने के लिए ‘नौजवान भारत सभा’ का गठन किया,● चंद्रशेखर आज़ाद के साथ ‘हिंदुस्तान समाजवादी प्रजातांत्र संघ’ का गठन किया,● लाला लाजपत राय की मौत का बदला लेने के लिए हत्यारे …

Read moreशहीद भगत सिंह की जीवनी

बंकिम चंद्र चटर्जी की जीवनी और उनकी रचनायें

पैदाइशी नाम दिग्विजय गुप्ता जन्म तिथि 27 जून 1838नैहाटी , बंगाल प्रेसीडेंसी , ब्रिटिश भारत मृत्यु तिथि 8 अप्रैल 1894 (55 वर्ष की आयु)कोलकाता , बंगाल प्रेसीडेंसी, ब्रिटिश भारत व्यवसाय लेखक, कवि, उपन्यासकार, निबंधकार, पत्रकार, व्याख्याता और राजनीतिज्ञ भाषा: हिन्दी बंगाली, अंग्रेजी मातृ संस्था कलकत्ता विश्वविद्यालय विषय साहित्य साहित्यिक आंदोलन बंगाल नवजागरण प्रमुख रचनायें दुर्गेशानंदिनीसकुत्तलादेवी चौधुरानीआनंद मठवंदे मातरम् बंकिम चंद्र चटर्जी को …

Read moreबंकिम चंद्र चटर्जी की जीवनी और उनकी रचनायें