New Hindi Kahani

राधेपुर गांव में गुरु माधव दास की कुटिया थी और उनके अनेक शिष्य थे। ” जिस प्रकार माता को अपने पुत्र से स्नेह रहता है ठीक उसी प्रकार गुरु को अपने शिष्यों से स्नेह था। “ उन्ही शिष्यों में से उनका एक शिष्य था सोहन। उसकी एक आदत बहुत ही अच्छी थी  कि गुरु माधव …

Read moreNew Hindi Kahani

बाबा आमटे का जीवन परिचय

जन्म तिथि: 26 दिसंबर, 1914 जन्म स्थान: हिंगनघाट, वर्धा, महाराष्ट्र माता-पिता: देवीदास आमटे (पिता) और लक्ष्मीबाई (माता) पति या पत्नी: साधना गुलेशास्त्री बच्चे: डॉ। प्रकाश आमटे और डॉ। विकास आम्टे शिक्षा: वर्धा लॉ कॉलेज आंदोलन: भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन, आनंदवन, भारत जोड़ी, लोक बिरादरी प्रचार, नर्मदा बचाओ आंदोलन धार्मिक दृश्य: हिंदू धर्म निधन: 9 फरवरी, 2008 मृत्यु का स्थान: आनंदवन, महाराष्ट्र बाबा आमटे का जीवन परिचय …

Read moreबाबा आमटे का जीवन परिचय

आचार्य विनोबा भावे का जीवन परिचय

जन्म तिथि: 11 सितंबर, 1895  जन्म स्थान: गागोडे गाँव, कोलाबा जिला, महाराष्ट्र माता-पिता: नरहरि शंभू राव (पिता) और रुक्मिणी देवी (माता) एसोसिएशन: स्वतंत्रता कार्यकर्ता, विचारक, सामाजिक सुधारक आंदोलन: भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन; भूदान आंदोलन; सर्वोदय आंदोलन राजनीतिक विचारधारा: दक्षिणपंथी, गांधीवादी धार्मिक दृश्य: समतावाद; हिन्दू धर्म प्रकाशन: गीता प्रवाचन (धार्मिक); टेसरी शक्ति (राजनीतिक); स्वराज्य शास्त्र (राजनीतिक); भूदान गंगा (सामाजिक); लव (आत्मकथा) द्वारा स्थानांतरित। मृत्यु: 15 नवंबर, 1982 आचार्य विनोबा भावे एक अहिंसा कार्यकर्ता, …

Read moreआचार्य विनोबा भावे का जीवन परिचय

Holi Essay in Marathi. मराठीत ‘होळी’वर निबंध

होळी हा एक महत्वाचा सण आहे। होळीचा सण म्हणजे उत्साह व उल्हास हा सण फाल्गुन महिन्यात पौर्णिमेला येतो। प्रत्येक गावात होळीसाठी एक जागा ठरलेली असते। तिला होळीचा माळ असे म्हणतात। तेथे एक खड्डा खणतात। त्यात झाडाची एक फांदी उभी ठेवतात। फांदीभोवती लाकडे रचतात। तिला फुलांनी सजवतात। हीच होळी होय। संध्याकाळी तेथे सर्व लोक जमतात। होळीची …

Read moreHoli Essay in Marathi. मराठीत ‘होळी’वर निबंध

मैं नदी हूँ कविता। mai nadi hu kavita in Hindi

mai hu nadi poem in hindi मैं नदी हूँअब नहीं मै ऊछलूंगीसूख गए कण्ठ गर मेरे तोबन्द बोतल नीर का पतामैं पूछ लूंगी कितनी लाशों और कितने ढेर कोकब तलक मै सम्भालूँ और क्यों?अधमरी तो हूँ मैं सालों-साल से,उम्मीद बंधती है नहीं इस चाल सेसुध मेरी लो ,नहीं और कुछ लूंगी.मैं नदी हूँ …………. मैं …

Read moreमैं नदी हूँ कविता। mai nadi hu kavita in Hindi

Poem on River in Hindi. नदी पर कविता

इस पोस्ट में पढ़िए नदी पर हिंदी कविता (poem on River in Hindi). the little river poem in hindi ऊँचे पहाड़ों से, सकरी चटानी से, सरपट दौड़ती हुई, बहती है नदी। ऊंचे पहाड़ों से भी गिरकर, सकरी चटटानो से भी फिसल कर, हार न मानने की सलाह, हमें दे जाती है नदी। जंगलो के बीच से, …

Read morePoem on River in Hindi. नदी पर कविता

कविताओं और नज़्मों के जरिए CAA, NRC और NPR का विरोध प्रदर्शन

जैसा कि सभी को ज्ञात है कि पिछले कुछ दिनों से लखनऊ में विरोध प्रदर्शन हो रहा है। विरोध प्रदर्शन करने के भी सबके अपने तरीके होते हैं। कोई बस फूँककर विरोध करता है, कोई मासूमों के साथ हिंसा करके विरोध करता है तो कोई शांतिपूर्ण विरोध करता है। कोई अपने लेख के माध्यम से …

Read moreकविताओं और नज़्मों के जरिए CAA, NRC और NPR का विरोध प्रदर्शन

Poem on Republic day in Hindi. गणतंत्र दिवस पर कविता

इस पोस्ट में हम आपके लिए भारत के गणतंत्र दिवस यानी कि 26 जनवरी के लिए हिंदी में कविता (Poem on Republic day in Hindi) ले कर आये हैं। यहाँ आपको गणतंत्र दिवस में कई तरह की हिंदी कविता मिलेंगी जिनको आप 26 जनवरी की बधाई देने के लिए उपयोग कर सकते हैं। गणतंत्र दिवस …

Read morePoem on Republic day in Hindi. गणतंत्र दिवस पर कविता

Poem on Sun in Hindi. सूरज पर कविता हिंदी में

इस पोस्ट पर बच्चों के लिए सूरज पर कविता (Sun Poem in Hindi) लेकर आएं हैं। सूरज जो समस्त ब्रम्हांड का ऊर्जा का स्रोत है, और हिन्दू समेत कई धर्मों में भगवान के रूप में भी पूजा जाता है। सूरज पर कविता हिंदी में (Sun Poem in Hindi) हम आपको यहां सूरज पर 5 कविताएं …

Read morePoem on Sun in Hindi. सूरज पर कविता हिंदी में

चाणक्य नीति पर निबंध

चाणक्य एक बुद्धिमान व्यक्ति अपने समय से बहुत आगे की सोच रखता था, चाणक्य ने नैतिकता के बारे में महत्वपूर्ण कथन दिये हैं, जो आज भी प्रचलित हैं। ‘चाणक्य नीती शास्त्र’ कथनों का एक संग्रह है, जिसे विभिन्न शास्त्रों से चाणक्य द्वारा चुना गया है। कौन है चाणक्य? चाणक्य का दर्शन एक नेता में नैतिक …

Read moreचाणक्य नीति पर निबंध