बुद्धि का त्रितंत्र सिद्धांत || स्टर्नबर्ग का बुद्धि सिद्धांत

शेयर करें

स्टर्नबर्ग त्रिबुद्धि सिद्धांत या बुद्धि का त्रितंत्र सिद्धांत बुद्धि का आधुनिक सिद्धांत माना जाता है। स्टर्नबर्ग का त्रिबुद्धि या बुद्धि का त्रितंत्र मानव बुद्धि को एक ही क्षमता के बजाय अलग-अलग घटकों में तोड़कर समझाने का प्रयास करता है।
• व्यावहारिक बुद्धि या संदर्भात्मक बुद्धि
• रचनात्मक बुद्धि या अनुभवात्मक बुद्धि
• विश्लेषणात्मक बुद्धि या घटकीय बुद्धि

व्यावहारिक बुद्धि या संदर्भात्मक बुद्धि :-

• स्टर्नबर्ग के त्रिबुद्धि सिद्धान्त (बुद्धि का त्रितंत्र सिद्धांत) के अनुसार व्यवहारिक बुद्धि वह बुद्धि होती है जिसका उपयोग करके आप अपने आस-पास की चीजों से अपना काम कर लें। व्यवहारिक बुद्धि एक तरीके से आपके प्रैक्टिकल ज्ञान पर आधारित होती है।

• व्यवहारिक बुद्धि को संदर्भात्मक बुद्धि भी कहते हैं। जैसा कि नाम से ही पता चलता है यह आपके व्यवहार में साफ तौर से देखी जा सकती है। व्यवहारिक बुद्धि का ही प्रयोग करके आप अपने आस-पास की चीजों से सामंजस्य स्थापित करते हैं।

रचनात्मक बुद्धि या अनुभवात्मक बुद्धि :-

• स्टर्नबर्ग के बुद्धि का त्रितंत्र सिद्धांत के अनुसार यह बुद्धि का दूसरा घटक है। रचनात्मक या अनुभवात्मक बुद्धि में व्यक्ति अपनी पिछली जिंदगी के घटनाक्रम और अनुभव का इस्तेमाल करके कुछ क्रिएटिव या सृजनात्मक करने का प्रयास करता है।

• रचनात्मक या अनुभवात्मक बुद्धि को सृजनात्मक बुद्धि भी कहा जाता है। रचनात्मक बुद्धि का ही प्रयोग करके व्यक्ति कुछ नया या इनोवेटिव करने का प्रयास करता है। रचनात्मक बुद्धि से ही जीवन के नए आयामों और सिद्धान्तों का निर्माण किया जाता है।

• इसलिए हम कह सकते हैं कि स्टर्नबर्ग के बुद्धि का त्रितंत्र सिद्धांत के दुसरे घटक रचनात्मक बुद्धि, अनुभवात्मक बुद्धि, सृजनात्मक बुद्धि या अनुभवजन्य बुद्धि व्यक्ति को इनोवेशन करने, नये सिद्धांत खोजने, जीवन के नए नियम और मौलिकता को बढ़ाने के लिए प्रेरित करने का काम करती है।

विश्लेषणात्मक बुद्धि या घटकीय बुद्धि :-

• विश्लेषणात्मक बुद्धि या घटकीय बुद्धि स्टर्नबर्ग के बुद्धि का त्रितंत्र सिद्धांत का तीसरा घटक है। विश्लेषणात्मक बुद्धि या घटकीय बुद्धि का प्रयोग करके व्यक्ति किसी समस्या को छोटे-छोटे भागों में तोडकर उसको हल करने का प्रयास करता है।

• विश्लेषणात्मक बुद्धि या घटकीय बुद्धि से व्यक्ति को तार्किक समस्याओं को सुलझाने में मदद मिलती है। इसी बुद्धि का प्रयोग करके व्यक्ति किसी सवाल का तुरंत जवाब दे पाने में सक्षम होता है, एक प्रकार से विश्लेषणात्मक बुद्धि को आप बुद्धि त्तपरता (प्रेजेंस आफ माइंड) भी कह सकते हैं क्योंकि घटकीय बुद्धि से ही व्यक्ति तार्किक प्रश्नों के जवाब, किसी डिबेट में अपना पछ रखने की छमता प्रदान करती है।

[Tag] बुद्धि का त्रितन्त्र सिद्धांत। स्टर्नबर्ग का बुद्धि का सिद्धांत। त्रितन्त्र सिद्धांत pdf. sternberg theory of intelligence in hindi. हिन्दी में बुद्धि के स्टर्नबर्ग की triarchic सिद्धांत। स्टर्नबर्ग थ्योरी ऑफ़ इंटेलिजेंस। खुफिया के स्टर्नबर्ग triarchic सिद्धांत।

शेयर करें

Leave a Comment